मीडिया नेटवर्क से जुड़ने की जरूरत – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

सोशल मीडिया पर पोस्ट फेक न्यूज को पढ़कर हम या तो उसे सच मान लेते हैं अथवा उस न्यूज के बारे में अन्य साधनों से उसके सही या गलत होने का पता करते हैं। तो क्यों नहीं, हम जैन समाज का एक ऎसा नेटवर्क तैयार करें जिससे फेक न्यूज से छुटकारा पाते हुए हमें सही खबर मिल सके। भारत के लगभग 45,000  गांवों/ शहरों में जैन समाज निवास करता है। यह संख्या अधिक या कम हो सकती है, पर इससे कुछ अधिक अंतर नहीं पड़ेगा। अगर हर गांव से 20 रुपए प्रतिमाह भी लिया जाए तो एक सुव्यवस्थित वेबसाइट,एप्प,यूट्यूब चैनल चलाया जा सकता है। बस जरूरत है आपको संकल्प करने कि हम आपस में एक- दूसरे से जुड़कर कड़ी बनाएंगे। तो फिर 45,000 गांव की एक कड़ी बन जाएगी। यह करना मुश्किल तो है, पर नामुमकिन नहीं। अच्छे कार्य की शुरुआत कठिन तो हो सकती है, पर उसका फल अच्छा होता है। अगर यह कार्य सम्पन्न हो जाए तो हम 2 मिनट में ही जैन समाज के सुख-दु:ख की खबर भेज सकते हैं और हम दूसरे की तकलीफ को भी समझ सकते हैं। एकता का परिचय दे सकते हैं। यह कार्य हमारी  संस्कृति और संस्कारों सुरक्षित रखने में एक बड़ा योगदान देगा। तो हम सब तैयार हैं? क्या इस बात से सहमत हैं? अगर सहमत हैं तो 9460155006 पर संकल्प लिख कर भेजें।

अनंत सागर
अंतर्मुखी के दिल की बात
7 जून 2021, सोमवार
भीलूड़ा (राज.)

Related Posts

Menu