प्रेरणा

संकट में भी आत्मविश्वास रखें – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantप्रेरणा
धर्मकथाओं से प्रेरणा लेने पर ही धार्मिक संस्कृति सुरक्षित रहती है। पद्मपुराण के पर्व 100 में आए प्रसंग से सीता…

राम-लक्ष्मण का अतुलनीय भातृ-प्रेम – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantप्रेरणा
पद्मपुराण पर्व 88 में राम-लक्ष्मण के राज्याभिषेक को लेकर चर्चा की गई है। इस चर्चा से शिक्षा मिलती है कि…

अतुलनीय है राम और भरत की समर्पण भावना – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantप्रेरणा
परिवार में एक दूसरे के प्रति समर्पण का भाव, त्याग, विनय ही परिजनों को एकसूत्र में पिरोए रखता है। धन आदि तो…

धर्म साधना करने वाले साधुओं के चरणों में हर रोग का उपचार है – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantप्रेरणा
ऐसे सम्पूर्ण रोग, शोक जिनका इलाज विज्ञान के पास भी नहीं है उनका इलाज धर्म साधना करने वाले  मुनि चरणों में…
Menu