कर्म सिद्धांत

कर्मों में सुधार से उद्धार सम्भव – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
कर्म बड़े विचित होते हैं। देखो, जिस त्रिलोकमण्डल हाथी को राम और लक्ष्मण अयोध्या में वश में कर सके, वह  राजा  भरत…

कर्म गति ने तो सीता पर भी लगा दिए लांछन – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
पद्मपुराण के पर्व तिरासी में राम, सीता और लक्ष्मण के अयोध्या में प्रवेश के बात सीता पर लांछन का वर्णन…

गलती को स्वीकार करने वाला महान बन जाता है – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
कोरोना महामारी के चलते कोरोना में उपयोग आने वाली दवाईओ की कालाबाजारी हो रही है। यहां तक कि कोरोना में…

कर्म सिद्धांत की पालना जरूरी – अंतर्मुखी मुनि श्री पूज्य सागर जी महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
रावण के दाह संस्कार के बाद विभीषण में अपने कुल के बड़े बुजुर्ग सुमाली, माल्यवान तथा रत्नश्रवा आदि परिवार के…
corona kah raha hai swayam ko bachaao

कोरोना कह रहा है स्वयं को बचाओ – अंतर्मुखी मुनि श्री पूज्य सागर जी महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
कोरोना महामारी से समझ लें कर्म सिद्धांत को तो आप वर्तमान में अपने आप को और आने वाले समय में…
ashubh karm ka uday ho to kuchh samajh nahi aata

अशुभ कर्म का उदय हो तो कुछ समझ नहीं आता – अंतर्मुखी मुनि श्री पूज्य सागर जी महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
पद्मपुराण के पर्व 76 में लक्ष्मण और रावण के बीच की वार्ता का प्रसंग आया है । यह प्रसंग बताता…
karm hi hai jo buddhi fira dete hai

कर्म ही हैं जो बुद्धि फिरा देते हैं – अंतर्मुखी मुनि श्री पूज्य सागर जी महाराज

label_importantकर्म सिद्धांत
राम और रावण का युद्ध होना था। उसके एक दिन पहले रावण और उसकी धर्म पत्नी मन्दोदरी की आपस में…
Menu