स्वाध्याय

aahaar daan aise karna chaahiye

स्वाध्याय – 19 : आहार दान ऐसे करना चाहिए

नवपुण्यैः प्रतिपत्तिः सप्तगुण समाहितेन शुद्धेन । अपसूनारम्भाणा मार्याणामिषयते दानम् ।। 113।। (रत्नकरण श्रावकाचार) पाँचसूनरूप पापकार्यों से रहित आर्य (धार्मिक) पुरुषों…
Menu