संत के प्रयास से आएगी समाज में जाग्रति

label_importantसमाचार

-अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर जी महाराज के अवतरण दिवस पर अंतर्मुखी परिवार ने बेटी गौरव उद्यान को लिया गोद

-अंतर्मुखी परिवार के सदस्यों ने किया वृक्षारोपण, चिकित्सालय प्रभारी ने बताया सराहनीय

किशनगढ़ – अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर जी महाराज के 40 वें अवतरण दिवस पर बीते बुधवार को अंतर्मुखी परिवार, शाखा किशनगढ़ ने उपखण्ड के सबसे बड़े सरकारी चिकित्सालय स्थित बेटी गौरव उद्यान को गोद लिया। अंतर्मुखी मुनि पूज्य सागर जी महाराज के मार्गदर्शन में अंतर्मुखी परिवार की ओर से इस उद्यान को विकसित करके मरीजों, उनके परिजनों और आमजन को शीघ्र ही सौंपा जाएगा। कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ मुनि श्री के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। इसके बाद उपस्थित सभी सदस्यों ने उद्यान में पौधरोपण किया।

कार्यक्रम में चिकित्सालय प्रभारी डॉ. अशोक जैन, डॉ. परसाराम चौधरी, डॉ. राजकुमार जैन, डॉ. अंजना गुप्ता, अंतर्मुखी पुरुष परिवार के राजकुमार दोसी, कमल बैद, प्रेम बड़जात्या, चन्द्र प्रकाश बैद, मनीष गोधा, देवेन्द्र झांझरी, अनिल सेठी, संजय सेठी,प्रवीण गंगवाल, जितेन्द्र पाटनी ,प्रवीण गंगवाल एवं महिला परिवार से कुसुम दोसी,शांति देवी बड़जात्या, मीना दोसी, रेखा बड़जात्या, मोना झांझरी, मोना गोधा, आरती बैद, प्रियंका सेठी, रेणु रांवका, ममता बोहरा एवं आकांशा पाटोदी सहित अनेक सदस्य उपस्थित थे। इस अवसर पर चिकित्सालय प्रभारी डॉ. अशोक जैन ने कहा कि अगर धार्मिक आयोजनों पर इस प्रकार की पहल की जाए तो धरती वृक्षों से हरी भरी हो जाएगी । जैन संत का यह प्रयास निश्चित रूप से समाज में जाग्रति लेकर आएगा।

Related Posts

Menu