तुष्टि दीदी ने प्रियंका सेठी को सौंपा मुनिश्री का भेजा प्रतीक चिन्ह

label_importantसमाचार

किशनगढ़। जैन समाज के पर्युषण महापर्व चल रहे हैं। पर्युषण महापर्व पर श्रावक-श्राविका साधना के जरिए आत्मशुद्धि कर रहे हैं। किशनगढ़ के संजय सेठी की धर्मपत्नी प्रियंका सेठी की भी 10 उपवास की साधना चल रही है जो 19 सितम्बर को पूरी हो जाएगी। वह दूसरे दिन 20 सितम्बर को पारणा ग्रहण करेंगी। भीलूड़ा (राजस्थान) में चातुर्मास कर रहे अन्तर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज के संघस्थ तुष्टि दीदी ने किशनगढ़ आकर 10 उपवास की साधना कर रही प्रियंका सेठी को मुनि का आशीर्वचन पत्र, अभिनन्दन पत्र,जापमाला,शास्त्र,दीपक एवं गाय-बछड़े का प्रतीक चिन्ह भेंट किया। इस दौरान तुष्टि के साथ प्रियल जैन इंदौर, आरती जैन किशनगढ़ भी उपस्थित थीं।

तुष्टि दीदी ने साथ ही राजेश कोठारी की पुत्री अदिति, नमन,अमन को भी आशीर्वचन पत्र भेंट किया। उल्लेखनीय है कि संजय-प्रियंका सेठी वर्ष 2018 में अन्तर्मुखी मुनि पूज्य सागर महाराज के चातुर्मास के समय उनसे जुड़े थे। मुनिश्री ने आशीर्वचन पत्र में लिखा है-  तुम धर्म के मार्ग पर निरंतर आगे बढ़ रही हो, यह सुनकर मन प्रसन्नचित्त रहता है। सच तो यही है कि जीवन में सुख,शांति,समृद्धि,अशुभ कर्मों की निर्जरा धार्मिक अनुष्ठानों से ही सम्भव है। तुमने इस सच को जान लिया, इससे मन और भी आनंदित है। इस सच को जानने के बाद तुमने इस वर्ष पर्युषण पर्व पर 10 उपवास की साधना की है, इस साधना से कर्म निर्जरा के साथ ही तुम्हारे भाव और भी निर्मल,पवित्र होंगे। तुम धार्मिक अनुष्ठानों में सदैव अग्रणी रहो और निरन्तर- निरन्तर धर्ममार्ग में सदैव आगे बढ़ती रहो, यही कामना है।

Related Posts

Menu